Mla Sent Letter To Cm – अॅाक्सीजन व दवाओं की कमी पर विधायक ने सीएम को भेजा पत्र


ख़बर सुनना

अकाओक्जेन व ड्रग्स की कमी पर विधायक ने सीएम को पत्र भेजा है
विधायक संजय ने समस्याओं के शीघ्र निस्तारण की उठाई मांग
कोरोना क्रिया रोगियों के परिजनों से दुर्व्यवहार का लगाया आरोप
अंतरिम एजेंसी
बत्तीसी। कोरोना महामारी संकट के बीच ऑक्सीजन, जीवनरक्षक दवाओं के अभाव आदि समस्याओं को लेकर रुधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने सीएम को पत्र भेजा है। उन्होंने को विभाजित अस्पतालों में कोरोना से विभिन्न रोगियों के इलाज के लिए जांच किट, ऑक्सीजन, टीका, बिस्तर आदि संसाधन उपलब्ध कराए जाने की मांग की।
विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कहा है कि जिले के महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज और उससे संबद्ध ओपेक चिकित्सालय कैली, जिला चिकित्सालय बस्ती, कोविद अस्पताल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुंडेरवा सहित अन्य बनाए गए अलग-अलग अस्पताल में रेमडेसिवर इंजेक्शन, ऑक्सीजन, जांच किट, अस्पतालों में बेड की सुविधा है। उपलब्धता की मांग कोरोना संकट के कारण बढ़ गई है। मरीजों को सुविधाओं तक पहुंचाने में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग की ओर से देरी की जा रही है। इलाज को लेकर डॉक्टर, मरीज और उनके तीमारदारों के बीच समन्वय स्थापित नहीं हो पा रहा है। इस कारण से केंद्र और राज्य सरकार के प्रति आम जन मानस का विश्वास घट रहा है। हानिकारक रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है और मृत्यु 165 से अधिक हो चुकी है। कैली व अन्य कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था न होने के कारण मरीज दम तोड़ रहे हैं। विधायक ने कहा है कि विभिन्न सीएचसी और पीएचसी पर जांच किट, रेमडेसिवर इंजेक्शन, ऑक्सीजन सिलिंडर नहीं हैं। मरीजों को समय से भोजन, पानी, दवा उपलब्ध नहीं कराई जाती है और तीमारदारों से बातचीत नहीं करने दी जाती है। इसके कारण भर्ती रोगी अपनी समस्या नहीं बता पा रहे हैं। तीमारदारों के साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है।

अकाओक्जेन व ड्रग्स की कमी पर विधायक ने सीएम को पत्र भेजा है

विधायक संजय ने समस्याओं के शीघ्र निस्तारण की उठाई मांग

कोरोनात्मक रोगियों के परिजनों से दुर्व्यवहार का लगाया आरोप

अंतरिम एजेंसी

बत्तीसी। कोरोना महामारी संकट के बीच ऑक्सीजन, जीवनरक्षक दवाओं के अभाव आदि समस्याओं को लेकर रुधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने सीएम को पत्र भेजा है। उन्होंने को विभाजित अस्पतालों में कोरोना से विभिन्न रोगियों के इलाज के लिए जांच किट, ऑक्सीजन, टीका, बिस्तर आदि संसाधन उपलब्ध कराए जाने की मांग की।

विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कहा है कि जिले के महर्षि वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज और उससे संबद्ध ओपेक चिकित्सालय कैली, जिला चिकित्सालय बस्ती, कोविद अस्पताल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुंडेरवा सहित अन्य बनाए गए अलग-अलग अस्पताल में रेमडेसिवर इंजेक्शन, ऑक्सीजन, जांच किट, अस्पतालों में बेड की सुविधा है। उपलब्धता की मांग कोरोना संकट के कारण बढ़ गई है। मरीजों को सुविधाओं तक पहुंचाने में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग की ओर से देरी की जा रही है। इलाज को लेकर डॉक्टर, मरीज और उनके तीमारदारों के बीच समन्वय स्थापित नहीं हो पा रहा है। इस कारण से केंद्र और राज्य सरकार के प्रति आम जन मानस का विश्वास घट रहा है। हानिकारक रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है और मृत्यु 165 से अधिक हो चुकी है। कैली व अन्य कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था न होने के कारण मरीज दम तोड़ रहे हैं। विधायक ने कहा है कि विभिन्न सीएचसी और पीएचसी पर जांच किट, रेमडेसिवर इंजेक्शन, ऑक्सीजन सिलिंडर नहीं हैं। मरीजों को समय से भोजन, पानी, दवा उपलब्ध नहीं कराई जाती है और तीमारदारों से बातचीत नहीं करने दी जाती है। इसके कारण भर्ती रोगी अपनी समस्या नहीं बता पा रहे हैं। तीमारदारों के साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

User~Online 32
Sitemap | AdSense Approvel Policy|